Browsing Tag

त्रिलोचन भट्ट

जिन्दगी भर बिजली-सड़क का इंतजार

सलीम मलिक (रामपुर टोंगिया गांव की आगे की कहानी) रामपुर टोंगिया गांव में कोई अस्पताल नहीं है। सबसे नजदीक का प्राथमिक चिकित्सा केंद्र 6 किमी. दूर पाटकोट है। इसके बाद 12 किमी. दूर कोटाबाग या फिर 32 किमी. की दूरी पर रामनगर। गर्भवती…

खेती चौपट, सरकार मौन

भारतीय वन्यजीव संस्थान ने एक सैंपल सर्वे उत्तराखंड के 15 गांव में किया है, जिसके नतीजे बहुत ही चौंकाने वाले हैं और इस तरफ इशारा करते हैं कि यदि जल्द से जल्द जंगली जानवरों को आबादी वाले क्षेत्रों से हटाया नहीं गया तो उत्तराखंड में खेती…